Pahli Ghar Ki Chudai – बहन की कुर्ती में उसके टाइट बड़े बूब्स

[ad_1]

Pahli Ghar Ki Chudai

क्रेजी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर मैं अपनी कहानी शेयर कर रहा हूं मेरा नाम अजय है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूं मेरी फैमिली में चार लोग हैं मैं मेरी छोटी बहन नीतू और मेरे मम्मी पापा तो आइए दोस्तों मैं अपने चुदाई की कहानी आप लोगों को शेयर कर रहा हूं. Pahli Ghar Ki Chudai

आशा करता हूं दोस्तों की यह कहानी आप लोगों को फ्री होगे कि मैंने अपनी छोटी बहन को किस तरह कैसे चोदा मेरी बहन की उम्र अभी 18 साल है और मैं उससे 2 साल बड़ा हूं मेरी बहन इतनी स्मार्ट है कि मोहल्ले के सभी लड़के उसे घूरते ही रहते हैं इसका साइज 36 32 26 का है.

कई बार हमने भी उसे चोदने का विचार बनाया पर हिम्मत ना झूठा पाया तो मैंने क्रेजी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर भाई बहन की चुदाई के बारे में पढ़ा का तब मुझे जाकर सुकून मिला फिर मैंने अपनी बहन के बारे में गलत सोचने लगे मेरे लंड का कार 8 इंच लंबा 3 इंच मोटा है.

मेरे पापा एक फैक्ट्री में मैनेजर की नौकरी करते हैं और मेरी मां हॉस्पिटल में नर्स है मैं और मेरी बहन नीतू दोनों पढ़ाई करते हैं पढ़ाई से लौटने के बाद मेरी बहन किचन के काम में लग जाती और मैं उसके बारे में सोच कर परेशान रहता था.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : पति का लंड घंटो चूसा पर खड़ा नही हुआ

एक दिन जब स्कूल से हम लोग वापस आए तो नीतू किचन में चली गई और मैं हाल में चला गया टीवी ऑन करके उस पर ब्लू फिल्म चलाने लगा मैं ब्लू फिल्में इतना मस्त हो गया पता ही नहीं चला की कब मेरी बहन नीतू हाल में आई और वह सब देख रही थी.

मैंने अचानक पीछे देखा तो नीतू खड़ी थी मैंने नीतू से पूछा नीतू तुम कब आए वह बोली मैं अभी आई हूं भैया मैं कुछ सरमाया और नीतू से बोला नीतू तुमने कुछ देखा नीतू बोले कुछ नहीं भैया मैं सब समझ गया की नीतू भी चोदना चाहती है.

शाम को चारों लोगों ने एक साथ बैठकर नाश्ता किया और उसके बाद मम्मी पापा अपने अपने रूम में सोने के लिए चले गए मैं और मेरी छोटी बहन नीतू हाल में बेड पर सोते थे रोज की तरह उस दिन भी हम दोनों एक ही बिस्तर पर सो गए.

मेरे दिमाग में तो सिर्फ नीतू को चोदने का भूत सवार था रात के करीब 11:00 बजे थे नीतू भी अपनी आंखें बंद करे हुए लेटी थी मैं भी नींद का बहाना करके अपनी आंखें बंद करके लेट गया करीब रात 12:00 बजे मैंने धीरे से नीतू के कंधे पर हाथ रखा और धीरे धीरे उसे सहलाने लगा.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Lund Par Jhula Jhulaya Chacha Ki Beti Ko

उसके बाद कोई फीलिंग ना होने पर मैंने उसकी कुर्ती में हाथ डाल दिया और उसके बबुआ को धीरे से दबाया क्या मस्त थे क्या मस्त माल था अगर आप भी होते तो मेरी बहन को चोदे बगैर नहीं मानते नीतू ने कोई जवाब ना देने पर मैंने उसके बबुआ को जोर से दबाना स्टार्ट कर दिया.

वह सिसकियां लेने लगी सीसीसी सी मैं समझ गया की नीतू भी जग रही थी फिर मैंने उसके सलवार का नाड़ा खोल दिया और पेंटी के ऊपर के अंदर से हाथ डाल दिया क्या मस्त चूत थी उसकी चूत पर जाट का बाल भी न था.

अब वह मेरी तरफ मुंह करके लेट गई मैं भी उसके होठों से को होठों को लगाकर चूसने लगा वह जोर-जोर से सिसकियां लेने लगी जीवन का आज मुझे सब सुख मिला था अब नीतू ने अपनी सलवार और कुर्ती दोनों उतार दी थी.

अब वह सिर्फ ब्रा और पेंटी में थी क्या मस्त लग रही थी मैं दोनों हाथों से उसके बबुआ को मसल रहा था वह कह रही थी भैया और मत तड़पाओ मैं कब से तुम्हारे लंड से चोदना चाहती थी और उसने मेरे कपड़े उतारती है मेरा लंड तो अंडर वियर को फाड़ कर बाहर आना चाहता था 8 इंच का लंड पूरा खड़ा था.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : जब मस्त माल बगल में सोई हो तो नींद कैसे आये

मेरी छोटी बहन उसे देखकर पागल हो रही थी उसने अंडर वियर से मेरे लंड को बाहर निकाला और गप से अपने मुंह में रख लिया और लाली पॉप की तरह चूस रही थी मुझे बहुत आनंद आ रहा था फिर करीब 20 मिनट के बाद उसके मुंह से अपना लंड निकाल कर उसकी चूत पर सेट किया और धीरे एक झटका मारा.

वह जोर से चिल्लाने लगी मैंने उसके मुंह पर हाथ रख लिया ताकि आवाज कमरे के बाहर ना जाए और थोड़ा थूक लगाकर फिर जोर से झटका मारा तो आधा लंड उसकी चूत पढ़ते हुए अंदर घुस गया वह जोर से रो रही थी और कह रही थी छोड़ दो भैया छोड़ दो भैया तेरा लंड इतना बड़ा है मैं पहली बार चोद रही हूं.

फिर मैंने उसको बोला सब्र कर बहन अभी बहुत मजा आएगा आगे और धीरे धीरे पूरा लंड उसकी चूत में घुसा दिया और आगे पीछे करने लगा करीब 20 मिनट में मेरा वीर्य उसकी योन में निकल गया और फिर उसी पोजीशन में उसके ऊपर 5 मिनट तक लेटे रहने के बाद.

फिर मैं उसको दोबारा चोदने लगा वह जोर-जोर से चिल्ला रही थी वह भैया ओ भैया उप भैया जोर से चोदो और जो दो जोर से चोदो भारदो अपनी बहन की चूत भोसड़ी के फाडू आज अपनी बहन की चूत को और करीब 20 मिनट में वाह भी झड़ चुकी थी कह रही थी भैया आज पूरा मजा आ गया.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Bhabhi Ko Train Se Gaon Le Jate Samay Chod Liya

अब रात के करीब 2:00 बज चुके थे और हम लोगों ने अपने अपने कपड़े पहने और सो गए सुबह उठ कर हम दोनों ने नहाया और रेडी होकर नाश्ता किया तो कैसी लगी हमारी स्टोरी आशा करता हूं आप लोगों को हमारी कहानी अच्छी ही लगी होगी या कहानी आप क्रेजी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं धन्यवाद.

दोस्तों आपको ये Pahli Ghar Ki Chudai की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे…………..

[ad_2]

Leave a Reply